रविवार, 26 दिसंबर 2010

आइए रामेश्वरम् चलें

प्रिय पाठको 
बहुत समय बाद आपसे रु-ब-रु हो रहा हूं। पिछले कुछ समय से चल रही व्यस्तताओं के कारण ऎसा हुआ जिसके लिए क्षमाप्रार्थी हूं। इस वर्ष सितम्बर-अक्तूबर में रामेश्वरम्‍ तमिलनाडू जाना हुआ। उसी समय से इच्छा थी कि आपको विस्तार से इस यात्रा का वृतान्त लेख के माध्यम से बताऊं पर समय की इजाजत के अभाव में चित्रों के माध्यम से अपनी इच्छा व्यक्त कर रहा हूं। लेकिन उम्मीद है कि रामेश्वरम्‍ तथा उसके आसपास के ये चित्र भी वहां की गौरवपूर्ण संस्कृति के बारे में बहुत कुछ स्पष्ट कर  देंगे । यहां चित्रों के साथ मरीना बीच (चेन्नई) का एक चलचित्र भी आपकी नज़र है, प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा रहेगी।




मरीना बीच चेनई का एक चलचित्र

 








5 Comments:

Kajal Kumar said...

मेरा कभी रामेश्र्वरम जाना नहीं हुआ. आपने यात्रा करवा दी. धन्यवाद.

ZEAL said...

.

दिनेश जी,

आपके लेख और चित्रों ने पुरानी याद ताजा कर दी। सन १९९५ में हमारा परिवार तिरुपति बालाजी, कन्याकुमारी , सेतुबंध रामेश्वरम आदि दर्शनीय तीर्थ स्थानों पर गया था।

आभार।

.

Patali-The-Village said...

आपने रामेश्र्वरम की यात्रा करवा दी|धन्यवाद|

Harman said...

kabhi raameshwarm nahi gaya lekin aapke kaarna use yahan par hi dekh liya. shukriya..
Please Visit My Blog..
Lyrics Mantra

madansharma said...

रामेश्वरम आदि दर्शनीय तीर्थ स्थानों का दर्शन कराने के लिए शुक्रिया! चलिए कुछ तो पैसा बचा इस महंगाई के युग में !!
धन्यवाद.

हिन्दी ब्लॉग टिप्सः तीन कॉलम वाली टेम्पलेट